LyricsBheegi Si Bhaagi Si (From…

Pritam

  • Written by:
Last update on: March 14, 2022

आई मेरी सुबह हँसती-हँसाती बोली आ के, "तेरे लिए संदेसा है, हाँ, है जागी आँखों को भी सपना मिलेगा

कोई खुशी आने का भी अंदेसा है, हाँ, है" हाँ-हाँ, गुलाबी सी सुबह हाँ-हाँ, शराबी सी हवा भीगी सी (हाँ), भागी सी (हाँ), मेरे बाज़ुओं में समाए जोगी सी (हाँ), जागी सी (हाँ), कोई प्रेम-धुन वो सुनाए भीगी सी (हाँ), भागी सी (हाँ), मेरे बाज़ुओं में समाए जोगी सी (हाँ), जागी सी (हाँ), कोई राम-धुन वो सुनाए राहें-वाहें बोलें बातें रूमानी आओ, बैठो, सुनो, बातें कहानी हैं, हाँ, हैं ताज़ी-ताज़ी लगें हमको रोज़ाना तेरी-मेरी बातें यूँ तो पुरानी हैं, हाँ, हैं हाँ-हाँ, ख़यालों से पले हाँ-हाँ, ये ज़िंदगी चले भीगी सी (हाँ), भागी सी (हाँ), मेरे बाज़ुओं में समाए जोगी सी (हाँ), जागी सी (हाँ), कोई प्रेम-धुन वो सुनाए भीगी सी (हाँ), भागी सी (हाँ), मेरे बाज़ुओं में समाए जोगी सी (हाँ), जागी सी (हाँ), कोई राम-धुन वो सुनाए मेरी आँखों की सियाही, पिया, देती है गवाही मैं प्यासी, थी निरासी, तू पानी की सुराही मेरी आँखों की सियाही, पिया, देती है गवाही तुझे देखा तो खिला हूँ, तेरी चाहत में घुला हूँ मिले मंदिर में ख़ुदा ज्यों, मैं तो तुझमें यूँ मिला हूँ मेरी आँखों की सियाही, पिया, देती है गवाही मेरी आँखों की सियाही, पिया, देती है गवाही हाँ-हाँ, ढूँढे ना अब कोई Ah, हाँ, मैं खोया, तू खोई भीगी सी (हाँ), भागी सी (हाँ), मेरे बाज़ुओं में समाए जोगी सी (हाँ), जागी सी (हाँ), कोई प्रेम-धुन वो सुनाए भीगी सी (हाँ), भागी सी (हाँ), मेरे बाज़ुओं में समाए जोगी सी (हाँ), जागी सी (हाँ), कोई राम-धुन वो सुनाए

  • 6

Last activities

Synced byHimanshu P
Translated bySwarup Banik

One place, for music creators.

Learn more