歌詞Sandese Aate Hain (Border)

Roop Kumar Rathod, Sonu Nigam

最終更新日:: 2019年12月30日

हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो

हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो होहो हो हो संदेशे आते हैं हमें तड़पाते हैं तो चिट्ठी आती है वो पूछे जाती है के घर कब आओगे के घर कब आओगे लिखो कब आओगे के तुम बिन ये घर सूना सूना है संदेशे आते हैं हमें तड़पाते हैं तो चिट्ठी आती है वो पूछे जाती है के घर कब आओगे के घर कब आओगे लिखो कब आओगे के तुम बिन ये घर सूना सूना है किसी दिलवाली ने किसी मतवाली ने हमें खत लिखा है ये हमसे पूछा है किसी की साँसों ने किसी की धड़कन ने किसी की चूड़ी ने किसी के कंगन ने किसी के कजरे ने किसी के गजरे ने महकती सुबहों ने मचलती शामों ने अकेली रातों में अधूरी बातों ने तरसती बाहों ने और पूछा है तरसी निगाहों ने के घर कब आओगे के घर कब आओगे लिखो कब आओगे के तुम बिन ये दिल सूना सूना है (संदेशे आते हैं) (हमें तड़पाते हैं) (तो चिट्ठी आती है) (वो पूछे जाती है) के घर कब आओगे के घर कब आओगे लिखो कब आओगे के तुम बिन ये घर सूना सूना है मोहब्बत वालों ने हमारे यारों ने हमें ये लिखा है कि हमसे पूछा है हमारे गाँवों ने आम की छांवों ने पुराने पीपल ने बरसते बादल ने खेत खलियानों ने हरे मैदानों ने बसंती बेलों ने झूमती बेलों ने लचकते झूलों ने दहकते फूलों ने चटकती कलियों ने और पूछा है गाँव की गलियों ने के घर कब आओगे के घर कब आओगे लिखो कब आओगे के तुम बिन गाँव सूना सूना है (संदेशे आते हैं) (हमें तड़पाते हैं) (तो चिट्ठी आती है) (वो पूछे जाती है) के घर कब आओगे के घर कब आओगे लिखो कब आओगे के तुम बिन ये घर सूना सूना है हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो हो होहो हो हो कभी एक ममता की प्यार की गंगा की जो चिट्ठी आती है साथ वो लाती है मेरे दिन बचपन के खेल वो आंगन के वो साया आंचल का वो टीका काजल का वो लोरी रातों में वो नरमी हाथों में वो चाहत आँखों में वो चिंता बातों में बिगड़ना ऊपर से मोहब्बत अंदर से करे वो देवी माँ यही हर खत में पूछे मेरी माँ के घर कब आओगे के घर कब आओगे लिखो कब आओगे के तुम बिन आँगन सूना सूना है (संदेशे आते हैं) (हमें तड़पाते हैं) (तो चिट्ठी आती है) (वो पूछे जाती है) के घर कब आओगे के घर कब आओगे लिखो कब आओगे के तुम बिन ये घर सूना सूना है ऐ गुजरने वाली हवा बता मेरा इतना काम करेगी क्या मेरे गाँव जा मेरे दोस्तों को सलाम दे मेरे गाँव में है जो वो गली जहाँ रेहती है मेरी दिलरुबा उसे मेरे प्यार का जाम दे उसे मेरे प्यार का जाम दे वहीं थोड़ी दूर है घर मेरा मेरे घर में है मेरी बूढ़ी माँ मेरी माँ के पैरों को छू के तू उसे उसके बेटे का नाम दे ऐ गुजरने वाली हवा ज़रा मेरे दोस्तों मेरी दिलरुबा मेरी माँ को मेरा पयाम दे उन्हें जा के तू ये पयाम दे मैं वापस आऊंगा मैं वापस आऊंगा घर अपने गाँव में उसी की छांव में कि माँ के आँचल से गाँव की पीपल से किसी के काजल से किया जो वादा था वो निभाऊंगा (मैं एक दिन आऊँगा) (मैं एक दिन आऊँगा) (मैं एक दिन आऊँगा) (मैं एक दिन आऊँगा) (मैं एक दिन आऊँगा) (मैं एक दिन आऊँगा) (मैं एक दिन आऊँगा) (मैं एक दिन आऊँगा)

  • 1

最新の活動

同期者:Sheena Sheena
翻訳者:Swarup Banik

あなたのコンピューターのSpotifyと
Apple MusicでMusixmatchが現在利用可能になりました。

今すぐダウンロード