歌詞Dil Kya Kare - From "Julie"

Kishore Kumar

  • 作詞::
最終更新日:: 2019年12月14日

दिल क्या करे जब किसी से किसी को प्यार हो जाये जाने कहा कब किसी को

किसी से प्यार हो जाये ऊँची-ऊँची दीवारों सी इस दुनिया की रस्में ओह, ना कुछ तेरे बस में जूली, ना कुछ मेरे बस में दिल क्या करे जब किसी से किसी को प्यार हो जाये जाने कहा कब किसी को किसी से प्यार हो जाये जैसे परबत पे घटा झुकाती हैं जैसे सागर से लहर उठती हैं ऐसे किसी चेहरे पे निगाह रुकती हैं जैसे परबत पे घटा झुकाती हैं जैसे सागर से लहर उठती हैं ऐसे किसी चेहरे पे निगाह रुकती हैं हो रोक नहीं सकती नजरों को दुनिया भर की रस्में ना कुछ तेरे बस में जूली, ना कुछ मेरे बस में दिल क्या करे जब किसी से किसी को प्यार हो जाये जाने कहा कब किसी को किसी से प्यार हो जाये आ मैं तेरी याद में सब को भुला दूँ दुनिया को तेरी तसवीर बना दूँ मेरा बस चले तो दिल चीर के दिखा दूँ आ मैं तेरी याद में सब को भुला दूँ दुनिया को तेरी तसवीर बना दूँ मेरा बस चले तो दिल चीर के दिखा दूँ हो दौड़ रहा हैं साथ लहू के प्यार तेरा नस-नस में ना कुछ तेरे बस में जूली, ना कुछ मेरे बस में दिल क्या करे जब किसी से किसी को प्यार हो जाये जाने कहा कब किसी को किसी से प्यार हो जाये ऊँची-ऊँची दीवारों सी इस दुनिया की रस्में ओह, ना कुछ तेरे बस में जूली, ना कुछ मेरे बस में दिल क्या करे जब किसी से किसी को प्यार हो जाये जाने कहा कब किसी को किसी से प्यार हो जाये

  • 111

最新の活動

同期者:Yashaswi S
翻訳者:Jyoti Pattnaik

あなたのコンピューターのSpotifyと
Apple MusicでMusixmatchが現在利用可能になりました。

今すぐダウンロード