SongtexteZinda Hoon

Vik Pathak

Letzte Aktualisierung am: 14. März 2020
#together against coronavirus

मैं अकेला चला था, तेरा पता पूछ रहा था किस दुनियाँ में तू है? तेरा नाम पूछ रहा था वो ही दुनियाँ है अपनी, बदल गया अब तेरा दौर है

वो ही सड़क है, वो ही शोर है क़िस्मत पे चलता किसका ज़ोर है? वो ही सड़क है, वो ही शोर है क़िस्मत पे चलता किसका ज़ोर है? तेरे दरमियाँ जो काटी थी ज़िंदगी वो कब से हम से रूठ के पीछे चली गई तेरे अहसास में ज़िंदा हूँ तेरी हर साँस में ज़िंदा हूँ ज़िंदा हूँ, ज़िंदा हूँ मैं ज़िंदा हूँ, मैं ज़िंदा हूँ फिर लौट के तू आजा, तुझे बाँहों में भर लूँ मुद्दत से ढूँढ रहा हूँ, तेरा दीदार कर लूँ फिर लौट के तू आजा, तुझे बाँहों में भर लूँ मुद्दत से ढूँढ रहा हूँ, तेरा दीदार कर लूँ तेरी फ़रियाद से ज़िंदा हूँ मैं तेरी याद में ज़िंदा हूँ ज़िंदा हूँ, ज़िंदा हूँ मैं ज़िंदा हूँ, मैं ज़िंदा हूँ कैसी तनहाई है, घटा घनघोर है तेरे बिन सूना-सूना गाँव का मोड़ है कैसी तनहाई है, घटा घनघोर है तेरे बिन सूना-सूना गाँव का मोड़ है तेरे वजूद में ज़िंदा हूँ अपने ताबूत में ज़िंदा हूँ ज़िंदा हूँ, ज़िंदा हूँ ज़िंदा हूँ, ज़िंदा हूँ ज़िंदा हूँ, ज़िंदा हूँ मैं ज़िंदा हूँ, ज़िंदा हूँ

  • 0

Letzte Aktivitäten

Synchronisiert vonHimanshu Pathak

Musixmatch ist jetzt für
deinen Computer für Spotify
und Apple Music verfügbar

Jetzt herunterladen